बुधवार, 6 अगस्त 2014

To LoVe 2015: 'पीके'-नंगू-पंगू हुए आमिर खान

आखिरकार आमिर खान भी नंगा पूंगा हो गए पीके....माफ कीजिएगा कुछ पीके नहीं..राजकुमार हिरानी की फिल्म पीके के लिए हुए हैं नंगू-पंगू आमिर खान। सलमान खान बरसों पहले कमीज उतार कर टॉपलेस हुए थे। अब आमिर ने इक्सवीं सदी में कमीज औऱ पेंट के साथ-साथ चढ्ढी भी उतार दी है। वैसे हो सकता है कि जिसे हम नंगू लूक कह रहे हैं बाद में उसके बारे में कहा जाए कि पोस्टर में आमिर ने चढ्ढी पहनी हुई थी..लेकिन स्कीन कलर की होने के कारण पोस्टर में नहीं दिखी।
   आमिर खान दस साल से लगातार सुपर हिट फिल्म दे रहे हैं। एकाध फिल्मों को छोड़कर उनकी हर फिल्म ने करोड़ों कमाए हैं। आमिर अपने समकालिन सुपरस्टारों से काफी ज्यादा एक्सपेरिमेंट भी करते हैं। सवाल है कि क्या इस बार उन्होंने नंगू पंगू होकर क्रिएटिविटी दिखाई है? पोस्टर वैसे शानदार है..आधुनिक है...पर एक सवाल ये भी है कि क्या आमिर के कंजरवेटिव दर्शक उन्हें पसंद करेंगे? अबतक मॉल कल्चर वाला दर्शक को नंगू आमिर पंसद आए हैं। साथ ही गली-दर-गली रहने वाली देसी शकीरा औऱ लेडी गागा की तो जैसे लॉटरी निकल गई है। आखिर उनका फेवरिट हीरो उस स्टाइल में है जिसके वो सपने में देखा करती थीं।
   आमिर से पहले एक औऱ बड़े सितारे जॉन अब्राहम न्यूड सीन दे चुके हैं। जॉन के अलावा नील नीतिन मुकेश भी फिल्म में न्यूड सीन कर चुके हैं। लेकिन नंगा-पूंगा हुए आमिर पहले सुपस्टार हैं। इस पोस्टर के साथ ही बहस भी छिड़ गई है। सवाल भी कई उठे हैं। मगर सब सवालों में सबसे बड़ा सवाल है कि अगर कोई हीरोइन आमिर की जगह होती तो लोग क्या कहते? आखिर हीरोइनें के बिकनी पोस्टर पर स्कीन शो का हल्ला क्यों मचने लगता है?
   सवाल में दम है। वैसे इस पोस्टर के बाद बहस ने बरसों पुरानी लड़कियों के टॉपलेस होने की मुहिम की याद तजा करा दी है। खैर इसतरह बात करने लगेंगे तो जाने कितने मुहिमों की कब्रें खोदनी पड़ेंगी। बेहतर है कि जिसे फिल्म देखनी हो वो देखे औऱ जिसने नहीं देखनी हो वा न देखे। भारत आधुनिक और पुरातन के बीच जी रहा है। दोनो को एक-दूसरे को जीने देना चाहिए। 
/a>
FuLl MoViEs
MoViEs To mOvIeS
XXX +24 <

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें